मैं और साहित्य !

मेरा साहित्यिक सफ़रनामा शुरू हुआ १९८८ में .

मेरी पहली पोस्टिंग जोधपुर में थी . वहाँ पर स्टेशन पत्रिका “लहर” हर साल प्रकाशित होती थी. मैं लाइब्रेरी में जाता रहता था . वही पर जे डब्लू ओ गुप्ता जी इंचार्ज थे. एक दिन बैठे बैठे यूँ ही उन्होंने मुझ से पूछा कुछ लिखते हो ? पत्रिका के लिए दे दो ….

मैंने बैरक में बैठ कर एक कविता लिखी और उन्हें दे दी ….

वो मेरी पहली कविता थी जो पत्रिका में प्रकाशित हुयी …..

क्रमश :

 

Posted in Uncategorized | Leave a comment